118 Kewal Parmatma Ki Prapti Ke Liye Manav Janam Hain 02 - Shri Ramsukhdas Ji Maharaj

118 Kewal Parmatma Ki Prapti Ke Liye Manav Janam Hain 02 - Shri Ramsukhdas Ji Maharaj

Video Analysis for 118 Kewal Parmatma Ki Prapti Ke Liye Manav Janam Hain 02 - Shri Ramsukhdas Ji Maharaj

May 11, 2014

600 x 360

31:39

5 / 5 (0 ratings)

OVERVIEW

  • A

    FINAL GRADE

  • 5 / 5

    RATING

  • 5

    VIEWS

  • 0

    LIKES

ACHIEVEMENTS

  • USER
    SATISFACTION

  • TEACHER'S
    PET

  • TWO YEARS
    ONLINE

REVENUE

  • $0

    EST. TOTAL REVENUE

  • $0 - $0

    EST. MONTHLY REVENUE

  • $0 - $0

    EST. YEARLY REVENUE

GROWTH

  • 0

    AVG. DAILY VIEWS

  • 0

    AVG. DAILY LIKES

  • 0

    AVG. DAILY DISLIKES

* We try our best to gather the video's growth rate. This is an estimate for a cumulative growth of views.

VIDEO

118 Kewal Parmatma Ki Prapti Ke Liye Manav Janam Hain 02 - Shri Ramsukhdas Ji Maharaj

यह नियम ले ले की अपने मुख से झूठे, असत्य, अश्लील शब्द नहीं कहेंगे | कठोर नहीं कहेंगे |झूठ या अश्लील बोला जाये तो एक समय का उपवास करेंगे | इन तीन बातो के लिए नियम ले ले | क्रोध आये या दृष्टिदोष हो या अश्लील बात कही जाये तो एक समय का उपवास करेंगे | प्रत्यक्ष मालूम हो सकता है की सुधार हुआ की नहीं | सबके लिए ही यह बात समझनी चाहिये |.....इस प्रकार करके देखो तो सही, इस प्रकार की चेष्टा करने पर क्रोधादि निकट ही नहीं आयेंगे | उपवास का भय लगेगा | इस प्रकार से वृतियाँ पवित्र होती है | असली सुधार वैराग्य से, राग के नाश से हो जाता है |


विषयों का चिन्तन करने वाले पुरुषो की उन विषयों में आसक्ति हो जाती है, आसक्ति से उन विषयों की कामना उत्पन्न होती है और कामना में विघ्न पढने से क्रोध उत्पन्न होता है | क्रोध से अत्यन्त मूढ़ भाव उत्पन्न हो जाता है, मूढ़ भाव से स्मृति में भ्रम हो जाता है, स्मृति में...

SOCIAL ACTIVITY

  • 0 SHARES

  • 0 TWEETS

  • 0 +1's

  • 0 PINS

  • 0 SHARES

WEB RESULTS

  • www.youtube.com   118 Kewal Parmatma Ki Prapti Ke Liye Manav …

    यह नियम ले ले की अपने मुख से झूठे, असत्य, अश्लील शब्द नहीं ...

    http://www.youtube.com/watch?v=28WINH3oiu8

  • www.youtube.com   118 Kewal Parmatma Ki Prapti Ke Liye Manav …

    क्रोध साक्षात् आग है | अग्नि बाहर जलती है और क्रोध बहुत घरों ...

    http://www.youtube.com/watch?v=-jnXlD1wykw

  • plus.google.com   SHREE SITA RAM - Google+

    118 Kewal Parmatma Ki Prapti Ke Liye Manav Janam Hain 02 - Shri Ramsukhdas Ji Maharaj. 1. 1. Add a comment... SHREE SITA RAM Shared publicly -

    https://plus.google.com/110454109303876114151